Latest News

बुधवार, 13 नवंबर 2019

चोरी तो चोरी ऊपर से सीना जोरी

दिग्विजय सिंह की रिपोर्ट

हम बात कर रहे हैं कानपुर की जहां इन दिनों कुछ होटल कोठों में तब्दील होते दिख रहे हैं। जहां पर लोग मुजरा देखने और अपनी हवस की प्यास बुझाने जाया करते थे। कोठे इसलिए कहा क्योंकि पहले के जमाने में कोठों में ही यह गंदा काम हुआ करता था, उसके बाद युग बदला समय बदला फिर इनको नाम दे दिया गया चकले खाने का । किसी समय में यह चकला खाना मूलगंज में बहुत भारी तादाद में हुआ करता था । उसके कुछ दशक बाद आधुनिक समय मे लगता है कि उसको होटल का नाम दे दिया गया है। इस लेटेस्ट टाइप के चकले खाने का विरोध यहां के निवासियों ने खूब किया। 

आम जनता का विरोध देख कलेक्टर गंज सी.ओ. ने सराहनीय कार्यवाही करते हुऐ एक होटल पर तत्काल छापा मारा जिसमें 8 जोड़े आपत्ति जनक स्थिति में पाये गये । कहने वाली बात यहां ये है के पुलिस प्रशासन ने पूरा सहयोग दिया इन चकले खाने को जड़ से उखाड़ फेंकने में। शहर के लोगों ने पुलिस प्रशासन को दिल से धन्यवाद दिया, कानपुर में पुलिस प्रशासन का गौरव बढ़ गया, चकले  खाने की कमर टूटने लग गई। 

सुतरखाना क्षेत्र में दो बार CO श्वेता यादव ने होटलों में छापा मारा। जिससे सभी दागी होटल संचालको में दहशत के बादल मंडराने लगे और आनन फानन संचालक कुछ सफेदपोशो की शरण में पहुंचे और उन सफेद पोशो ने एस एस पी साहब का दरवाजा खटखटाया। फिर भी कोई दाल न गली। 

न्यायप्रिय एस एस पी साहब ने भी सख्त रुख अपनाते हुऐ कहा की अब होटल मानक के विपरीत नही चलेंगे। जो होटल स्कूली छात्राओं व लोकल आई डी वालों को रूम देंगे उन पर कार्यवाही जरुर की जायेगी। इसलिये कानपुर शहर में जितने होटल गड़बड़ है वो अपनी सारी कमियों को तत्काल सुधार ले। आज जिन लोगों ने जगह-जगह 50 गज 70 गज में और छोटी गलियों में अपने घरों को होटल में तब्दील किया है वो पूरी तरह अवैध हैं, जल्द ही भूसा टोली, कछियाना, हरबंशमोहल, कोपरगंज के सभी होटलों के मानक चेक किये जायेंगे और मानक के विपरीत चल रहे होटलों पर कार्यवाही की जायेगी। गलियों में बने होटलों की भी जांच की जायेगी, हर होटल के पास पर्यटन विभाग द्वारा जारी की गई गाईड लाइन के अनुसार सारे प्रपत्र होने अनिवार्य हैं। 

SSP साहब के सख्त रुख से हताश होकर अब होटल संचालक किसी नए तरीके की फिराक में हैं, जिससे इनके काले कारनामे जारी रह सकें।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें


Created By :- KT Vision